सर्दियों में होने वाली खुजली मिटने के लिए, ये 5 घरेलू टिप्‍स आजमाएं

ठंडी या सर्दी के दिनों में सर में खुजली होना बहुत ही आम बात है, ऐसा ड्राईनेस के कारण होता है। लेकिन कई लोगों के सर में खुजली का कारण सर की सफाई न करना, डैंड्रफ या इंफेक्‍शन का होना कारण भी होता है। सर के अलावा सर्दियों में ड्राईनेस के कारण आपको खुजली हाथ, पैर, सिर, गर्दन या शरीर के किसी भी भाग में हो सकता हैं। आपको खुजाने पर कुछ समय के लिए आराम तो मिलेगा लेकिन फिर से उस जगह पर दुबारा खुजली होने लगती है और ज्‍यादा खुजाने से उस अंग पर घाव, चोट या इन्फेक्शन होने की संभावना हो जाती हैं। लेकिन अगर खुजली शरीर के कई भागो पर एक साथ हो तो उसे ठीक करना बहुत मुश्किल हो जाता हैं। लेकिन आप परेशान होने की जरुरत नहीं है क्‍योंकि आज हम आपके लिए ऐसे आसान टिप्‍स लाए है जिसकी मदद से आप आसानी से अपनी शरीर में होने वाली खुजली को दूर कर सकते हैं।

नींबू

खुजली दूर करने के लिए नींबू  सबसे अच्‍छा घरेलू उपाय है। और ये आपको बड़े ही आसानी से आपके घर में  मिल जाती है और इस घरेलु नुस्खे का इस्‍तेमाल काफी दिनों से किया जा रहा है। नींबू में एसिडिक एसिड और सिट्रिक एसिड होता हैं जो फितरत से एंटीसेप्टिक और एंटी इर्रिटेटिंग भी होता है जिससे आपको खुजली के इलाज में मदद मिलती हैं। इस घरेलु नुस्खे का इस्तेमाल बरसो से किया जा रहा हैं। नींबू के रस को पानी में निचोड़ कर खुजली वाले जगह पर लगा लें। आपको हल्‍की हल्की जलन का एहसास हो सकता हैं। या आप दो चम्मच तुलसी के पत्तों का रस और दो चम्मच नींबू के रस दोनों को अच्छे से मिलाकर खुजली वाली जगह पर साफ़ कपरे या साफ़ कॉटन की मदद से लगा लें।

नीम

नीम को चमरे के लिए मीठा माना गया है। कड़वी नीम आपकी स्किन के लिए बहुत ही लाभदायक होती है। नीम की पत्ती में एंटीसेप्टिक और एंटी बायोटिक होते हैं जो आपको खुजली को दूर करने में काफी मदद करती है। नीम के पत्तियो को  पानी में उबाल कर और फिर उस पानी से गुनगुने या ठंडा होने पर उससे नहा लें। आप नीम के पत्तो पीसकर दही के साथ मिलाकर खुजली वाली जगह पर भी लगाएं। इससे भी आपको आपको बाहुत लाभ मिलेगा।

गेंदे के पत्तियां

गेंदे के पौधे की पत्तो के बारे में आप जानते है की गेंदे की पत्तियों में टीबैक्टीरियल एवं एंटी वायरल और एंटीफंगल गुण पाए जाते हैं। जिससे आपकी किसी भी खुजली की समस्या दूर कर सकती है। इसके लिए आप गेंदे के पत्तों को  पानी में उबाल लें। खुजली वाली जगह को इस पानी इस गेंदे की पत्तियों वाली पानी से सफाई करें। अगर आप लगातार एक सप्तताह तक ऐसा करते  हैं तो आपकी खुजली हमेशा के लिए जड़ से खत्म हो जाएगी। गेंदे का पौधा आपको आसानी किसी भी छोटी बड़ी नर्सरी में मिल जाएगी या कई लोग इसे बागवानी के लिए भी इस्तेमाल करते है आपको कही भी मिल जाएगा।

एलोवेरा

एलोवेरा में एंटीफंगल और एंटीबैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं जिससे स्किन से इन्फेक्शन को दूर करने में आपकी मदद करता हैं। इसके साथ ही एलोवेरा में विटामिन ई भी होता है जो त्वचा में नमी देने मदद करता हैं जिससे आपको खुजली में आराम मिलता हैं। आपको बता दें की ये खुजली को दूर करने का सबसे अच्‍छा और आसान उपाय है। इसके इस्‍तेमाल करने के लिए आप खुजली वाली हिस्से पर एलोवेरा जैल लगाकर लें और उसे 15 मिनट तक सूखने दें और उसके बाद उस खुजली वाली हिस्से को हलके गर्म पानी से धो लें।

सरसों का तेल

सर्दियों में खुजली होने का आम कारण स्किन में ड्राईनेस ही होता है और इस ड्राईनेस दूर करने के लिए सरसों के तेल से अच्‍छा और कोई दूसरा उपाय हो ही नहीं सकता है। पहले समय में हमारे बुजुर्ग नहाने से पहले अपनी बॉडी में सरसों का तेल का लेप लगाते थे। ताकि उनके शरीर की खुश्‍की दूर हो सके। आप भी ऐसा कर सकते हैं। जी हां सरसों को तेल स्किन में अंदर जाकर उसे पोषण और नमी दोनों देता है जिससे खुजली से छुटकारा पाने में मदद मिलती है।

One thought on “सर्दियों में होने वाली खुजली मिटने के लिए, ये 5 घरेलू टिप्‍स आजमाएं

Leave a Reply

Your email address will not be published.